Latest Best Bewafa Shayari in Hindi बेहतरीन बेवफा शायरी, बेवफाई शायरी हिंदी में 2020

Latest Best Bewafa Shayari in Hindi बेहतरीन बेवफा शायरी, बेवफाई शायरी हिंदी में  2020
: Agar Aap Mein Se Kisee Ka Dil Toot Gaya Hai Ya Aap Pyaar Mein Dhokha Kha Chuke Hain, To Ek Bevapha Shaayaree Aapake Lie Bahut Khaas Hogee, Isase Pahale Bhee Hamane Dukh Bharee Shaayaree Aur Dukhad Shaayaree Kee Tasveeren Saajha Kee Theen Lekin Ham Un Logon Kee Shaayaree Likhate Hain. Jin Logon Ne Pyaar Mein Bevaphaee Paee Hai, Aajakal Pyaar Mein Dhokha Dena Aam Baat Ho Gaee Hai Aur Aapako Is Bevaphaee Ko Dil Se Nahin Lagaana Chaahie. Sheyar Karen Aur Apane Mitr Ko Apanee Bevapha Premika Ke Baare Mein Bataen Aur Apane Jeevan Ko Phir Se Ek Naya Raasta Den Aur Ek Naya Jeevan Saathee Paen. Aaie Padhate Hain Kuchh Behatareen Bevapha Shaayaree Hindee Mein, Aap Ise Aur Apane Doston Ko Jaroor Pasand Karenge Ke Saath Bhee Saajha Karenge.

Best Bewafa Shayari in Hindi

हर पल कुछ सोचते रहने की आदत हो गयी है,
हर आहट पे चौंक जाने की आदत हो गयी है,
तेरे इश्क़ में ऐ बेवफा, हिज्र की रातों के संग,
हमको भी जागते रहने की आदत हो गयी है।

वो छोड़ के गए हमें;
न जाने उनकी क्या मजबूरी थी;
खुदा ने कहा इसमें उनका कोई कसूर नहीं;
ये कहानी तो मैंने लिखी ही अधूरी थी।

प्यार में बेवाफाई मिले तो गम न करना;
अपनी आँखे किसी के लिए नम न करना;
वो चाहे लाख नफरते करें तुमसे;
पर तुम अपना प्यार कभी उसके लिए कम न करना।

अगर दुनिया में जीने की चाहत न होती,
तो खुदा ने मोहब्बत बनायी न होती,
इस तरह लोग मरने की आरजू न करते,
अगर मोहब्बत में किसी की बेवफाई न होती।

  • Bewafa Shayari For Boyfriend In Hindi

बेवफा शायरी ग्रर्लफ्रेंड के लिए –
हम तो तेरे दिल की महफ़िल सजाने आए थे;
तेरी कसम तुझे अपना बनाने आए थे;
किस बात की सजा दी तुने हमको बेवफा;
हम तो तेरे दर्द को अपना बनाने आए थे।

न पूछ मेरे सब्र की इन्तहां कहाँ तक है,
तू##सितम कर ले तेरी_हसरत जहाँ तक है,
वफ़ा की उम्मीद जिन्हें होगी उन्हें होगी,
हमे तो देखना है तू बेवफा कहाँ तक है।

दो दिलों की धड़कनों में एक साज़ होता है;
सबको अपनी-अपनी मोहब्बत पर नाज़ होता है;
उसमें से हर एक बेवफा नहीं होता;
उसकी बेवफ़ाई के पीछे भी कोई राज होता है!

इंसान के कंधो पर इंसान जा रहा था,
कफ़न में लिपटा हुआ अरमान जा रहा था,
जिसे भी मिली बेवफाई मोहब्बत में,
वफ़ा कि तलास में शमसान जा रहा था।

चेहरों के लिए आईने कुर्बान किये है;
इस शौक में अपने बड़े नुकसान किये है;
महफ़िल में मुझे गालियाँ देकर है बहुत खुश;
जिस शख्स पर मैंने बड़े एहसान किये है।
Bewafa Shayari For Wife In Hindi

बेवफा शायरी पत्नी के लिए –
मैंने कब कहा तू मुझे गुलाब दे…
या फिर अपनी मोहब्बत से नवाज़ दे…
आज बहुत उदास है मन मेरा…..
गैर बनके ही सही तू बस मुझे आवाज़ दे…!!

तुझे है मशक़-ए-सितम का मलाल वैसे ही,
हमारी जान है जान पर बबाल वैसे ही,
चला था जिक्र जमाने की बेवफ़ाई का,
तो आ गया है तुम्हारा ख्याल वैसे ही।

तेरी तो फितरत थी
सबसे मोहब्बत करने की,
हम बेवजह खुद को
खुश नसीब समझने लगे।

नज़र नज़र से मिलेगी तो सर झुका लेंगे,
वो बेवफा है मेरा इम्तहान क्या लेगा,
उसे चिराग जलाने को मत कह देना,
वो ना समझ है कहीं उँगलियाँ जला लेगा।
Bewafa Shayari For Husband In Hindi

बेवफा शायरी पति के लिए –
उसके चेहरे पर इस कदर नूर था,
कि उसकी याद में रोना भी मंज़ूर था,
बेवफ़ा भी नहीं कह सकते उसको ‘फराज़’,
प्यार तो हमने किया है वो तो बेक़सूर था।

दो दिलों की धड़कनों में एक साज़ होता है,
सबको अपनी-अपनी मोहब्बत पर नाज़ होता है,
उसमें से हर एक बेवफा नहीं होता,
उसकी बेवफ़ाई के पीछे भी कोई राज होता है।

जानते थे कि नहीं हो सकते कभी तुम हमारे,
फिर भी खुदा से तुम्हें माँगने की आदत हो गयी,
पैमाने वफ़ा क्या है, हमें क्या मालूम,
कि बेवफाओं से दिल लगाने की आदत हो गयी।

कभी ग़म तो कभी तन्हाई मार गयी,
कभी याद आकर उनकी जुदाई मार गयी,
बहुत टूट कर चाहा जिसको हमने,
आखिर में उसकी बेवफाई मार गयी।
– Bewafa Shayari For Friends In Hindi

दोस्त के बेवफाई शायरी हिंदी में
नसीब बन कर कोई ज़िन्दगी में आता है,
फिर ख्वाब बन कर आँखों में समा जाता है,
यकीन दिलाता है कि वो हमारा ही है,
फिर ना जाने क्यों वक़्त के साथ बदल जाता है।

हर धड़कन में एक राज होता है
बात को बताने का भी एक अंदाज होता है
जब तक ना लगे ठोकर बेवाफाई की तब तक
हर किसी को अपने प्यार पर नाज होता है…!!

जाने मेरी आँखों से कितने आँसू बह गए,
इंसानो की इस भीड़ में देखो हम तनहा रह गए,
करते थे जो कभी अपनी वफ़ा की बातें,
आज वही सनम हमें बेवफ़ा कह गए।

एक ग़ज़ल तेरे लिए ज़रूर लिखूंगा,
बे-हिसाब उस में तेरा कसूर लिखूंगा,
टूट गए बचपन के तेरे सारे खिलौने,
अब दिलों से खेलना तेरा दस्तूर लिखूंगा।

तेरी चौखट से सर उठाऊँ तो बेवफा कहना,
तेरे सिवा किसी और को चाहूँ तो बेवफा कहना,
मेरी बफओं पे सक है तो खंजर उठा लेना,
मै शौक से ना मर जाऊं तो बेवफा कहना।
Bewafa Shayari For Whatsapp status In Hindi


कौन कहता है हम उसके बिना मर जायेंगे,
हम तो दरिया है समंदर में उतर जायेंगे,
वो तरस जायेंगे प्यार की एक बून्द के लिए,
हम तो बादल है प्यार के किसी और पर बरस जायेंगे!!

आप बेवफा होंगे कभी सोचा ही नहीं था,
आप कभी खफा होंगे सोचा ही नहीं था,
जो गीत लिखे हमने कभी तेरे प्यार पर तेरे,
वही गीत रुशवा होंगे सोचा ही नहीं था।

जरूरी नहीं की हर रिश्ता
बेवफाई के साथ ही खत्म हो
कुछ रिश्तें किसी की
ख़शी के लिए भी तोड़ने पड़ते हैं!

वो सुना रहे थे अपनी वफाओं के किस्से,
हम पर नजर पड़ी तो खामोश हो गये।

मुझे मालूम है हम उनके बिना जी नहीं सकते,
उनका भी यही हाल है मगर किसी और के लिए।
– Bewafa Shayari For Facebook In Hindi

फेसबुक के लिए बेवफा शायरी हिंदी में
काम आ सकी न अपनी वफायें तो क्या करें,
उस बेवफा को भूल न जाये तो क्या करे।

मेरी मोहब्बत सच्ची है इसलिए तेरी याद आती है,
अगर तेरी बेवफाई सच्ची है तो अब याद मत आना।

इस दौर में की थी जिस से वफ़ा की उम्मीद,
आखिर को उसी के हाथ का पत्थर लगा मुझे।

रोये कुछ इस तरह से मेरे जिस्म से लिपट के,
ऐसा लगा के जैसे कभी बेवफा न थे वो।

हर भूल तेरी माफ की तेरी हर खता को भुला दिया,
गम है की मेरे प्यार का तू ने बेवफाई सिला दिया।

मोहब्बत से भरी कोई गजल उसे पसंद नहीं,
बेवफाई के हर शेर पे वो दाद दिया करते हैं।

दो लाइन वाली बेवफा शायरी – 2 Line Bewafa Shayari In Hindi

इधर हमसे भी बात लाख करते हैं लगावत की,
उधर गैरों से भी कुछ बादे होते जाते हैं।

बेवफाओं की इस दुनिया में संभल कर चलना,
यहाँ मोहब्बत से भी बरबाद कर देतें हैं लोग।

उसकी बेवफाई पे भी फ़िदा होती है जान अपनी,
अगर उसमे वफ़ा होती तो क्या होता खुदा जाने।

अब देखिये तो किस की जान जाती है,
मैंने उसकी और उसने मेरी कसम खायी है।

फिर से निकलेंगे तलाश-ए-ज़िन्दगी में,
दुआ करना इस बार कोई बेवफा न निकले।

जब तक न लगे बेवफ़ाई की ठोकर दोस्त,
हर किसी को अपनी पसंद पर नाज़ होता है।

मोहब्बत का नतीजा दुनिया में हमने बुरा देखा,
#जिन्हें Dava था वफ़ा का उन्हें भी हमने बेवफा देखा।

कैसे यकीन करे हम तेरी मोहब्बत का,
जब बिकती है बेवफाई तेरे ही नाम से।

तेरा ख्याल दिल से मिटाया नहीं अभी,
बेवफा मैंने तुझको भुलाया नहीं अभी।

तेरी वफ़ा के तकाजे बदल गये वरना,
मुझे तो आज भी तुझसे अजीज कोई नहीं।

Post a Comment

0 Comments